Menu

चावल उत्पादन 45 लाख टन अधिक


चावल की बिजाई में वृद्धि आने और वर्षा पिछले वर्ष के मुकाबले अधिक होने के कारण पैदावार बढ़ने की संभावना बिजाई के समय से ही हो रही थी जिसका संकेत व्यापार भास्कर ने पहले ही दे दिया था। इस वर्ष उत्पादन 44.5 लाख टन बढ़कर 1088.6 लाख टन पर पहुंचने के अनुमान सरकार लगा रही है। हालांकि बासमती चावल उत्पादन में पिछले वर्ष के मुकाबले गिरावट की संभावना व्यापारिक वर्ग कर रहा है।